Wednesday, November 30, 2022

Administration Will Deal Strictly With Those Who Spoil Harmony During Festivals, CM Yogi Adityanath Gave Instructions – त्योहारों के दौरान सौहर्द्र बिगाड़ने वालों से सख्ती से निपटेगा प्रशासन, CM योगी आदित्यनाथ ने दिए निर्देश


त्योहारों के दौरान सौहर्द्र बिगाड़ने वालों से सख्ती से निपटेगा प्रशासन, CM योगी आदित्यनाथ ने दिए निर्देश

सीएम ने कहा, ” आगामी एक माह त्योहार की उमंग से परिपूर्ण होंगे. बाजारों में भीड़ होगी. ऐसे में पुलिस को फुट पेट्रोलिंग बढ़ानी होगी.”

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मंडल, जोन, रेंज, पुलिस कमिश्नरेट और जनपद के वरिष्ठ प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को आगामी पर्व-त्योहारों में सुदृढ़ कानून-व्यवस्था के सम्बंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि 26 सितंबर से शारदीय नवरात्रि की शुरुआत हो रही है. इसी प्रकार, विजयादशमी, दशहरा, बाल्मीकि जयंती, बरावफ़ात, दीपावली और छठ आदि महत्वपूर्ण पर्व-त्योहार आगामी कुछ दिनों के भीतर हैं. यह समय संवेदनशील है. ऐसे में 24×7 अलर्ट मोड में रहना होगा. 

यह भी पढ़ें

सीएम ने कहा, ” आगामी एक माह त्योहार की उमंग से परिपूर्ण होंगे. बाजारों में भीड़ होगी. ऐसे में पुलिस को फुट पेट्रोलिंग बढ़ानी होगी. महिलाओं, बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा को लेकर अतिरिक्त सतर्कता बरतनी होगी. त्योहारों के बीच अनावश्यक बिजली कटौती न की जाए. तय रोस्टर के अनुसार गांव/शहर में बिजली आपूर्ति होनी चाहिए. प्रदेश स्तर पर, कमिश्नरी और रेंज स्तर पर कंट्रोल रूम एक्टिव किये जाएं. प्रदेश स्तर पर एडीजी कानून-व्यवस्था द्वारा निगरानी की जाए.” 

मुख्यमंत्री ने कहा, ” प्रदेश में परंपरागत रूप से 44 हजार से अधिक स्थलों में माँ दुर्गा की प्रतिमाएं रखी जाती रही हैं. इसके अतिरिक्त भी प्रतिमाओं की स्थापना होती है. पूजा समितियों से संवाद करें, प्रयास करें कि प्रतिमा की स्थापना सुरक्षित स्थान जैसे सार्वजनिक पार्क आदि में हो, ताकि सड़क पर सामान्य यातायात प्रभावित न हो. आस्था और जनभावना का पूरा सम्मान किया जाना चाहिए.”

सीएम योगी ने निर्देश दिया, ” प्रतिमा विसर्जन के समय पुलिस बल की तैनाती के लिए स्थानीय जरूरतों के मुताबिक रणनीति तैयार करें. विसर्जन के लिए समितियों से संवाद कर अस्थायी तालाब का निर्माण कराया जाना उचित होगा. रामलीला हमारी प्राचीन संस्कृति का हिस्सा है, इसमें बड़ी संख्या में आम जन सहभाग करते हैं. देर रात तक रामलीला का मंचन चलता रहता है. ऐसे में सुरक्षा की विधिवत व्यवस्था होनी चाहिए. पेट्रिलिंग बढ़ाई जानी चाहिए.”

उन्होंने कहा कि पर्व शांति और सौहार्द के बीच सम्पन्न हों, इसके लिए स्थानीय जरूरतों को देखते हुए सभी जरूरी प्रयास किए जाएं. शरारतपूर्ण बयान जारी करने वालों के साथ जीरो टॉलरेंस की नीति के साथ कड़ाई से पेश आएं. माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजक तत्वों के साथ पूरी कठोरता की जाए. त्योहारों के समय में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन का विशेष अभियान चलाया जाना चाहिए. ग्राम्य विकास व नगर विकास विभाग इन सम्बंध में जरूरी कार्यवाही सुनिश्चित कराएं.

सीएम ने कहा, ” किसी भी घटना को छोटा मानकर नजरअंदाज न करें. पुलिस बल को 24×7 अलर्ट मोड में रहना होगा. संवेदनशील प्रकरणों में वरिष्ठ अधिकारी लीड करें. मौके पर उपस्थित हों. जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के बीच बेहतर तालमेल हो.”

यह भी पढ़ें –

— राजस्थान कांग्रेस में घमासान : पार्टी के वरिष्ठ नेता से बोले गहलोत – मेरे हाथ में कुछ भी नहीं

— विपक्षी सभी दल ‘भ्रष्ट’ और ‘वंशवादी’ हैं: BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इनेलो की रैली पर कहा



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,587FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime