Wednesday, November 30, 2022

Chandra Grahan 2022 Visible In India Where Will The Lunar Eclipse Be Visible Chandra Grahan Time And Sutal Kaal – Chandra Grahan 2022: चंद्र ग्रहण कहां-कहां दिखेगा, जानें सही समय और सूतक काल


चंद्र ग्रहण कहां-कहां दिखेगा | Where will the lunar eclipse be visible

भारत में साल का आखिरी चंद्र ग्रहण पूर्वी भागों में दिखाई देगा. शहरों की बात करें तो पटना, रांची, कोलकाता, सिलीगुड़ी, गुवाहाटी इत्यादि में देखा जा सकता है. वहीं भारत के अलावा इस चंद्र ग्रहण को पूर्वी युरोप, उत्तरी युरोप, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, हिंद महासागर, प्रशांत महासागर, उत्तर अमेरिका, दक्षिण अमेरिका के हिस्सों में देखा जा सकता है. हालांकि यह चंद्र ग्रहण दक्षिणी-पश्चिमी यूरोप और अफ्रीका महाद्वीप में दिखाई नहीं देगा. 

कब दिखाई देगा साल का अंतिम चंद्र ग्रहण | Chandra Grahan 2022 Visible Time

साल 2022 का अंतिम चंद्र ग्रहण भारत में 08 नवंबर, मंगलवार को शाम 5 बजकर 32 मिनट से दिखाई देना शुरू होगा. वहीं यह चंद्र ग्रहण शाम 6 बजकर 18 मिनट पर खत्म हो जाएगा. इस स्थिति में इस चंद्र ग्रहण का सूतक काल सुबह 9 बजकर 21 मिनट से शुरू होगा. जबकि चंद्र ग्रहण के सूतक काल की समाप्ति शाम 6 बजकर 18 मिनट पर होगी. 

Lunar Eclipse 2022: देव दीपावली पर लगने जा रहा है चंद्र ग्रहण, इस दिन भूल से भी ना करें ये काम

चंद्र ग्रहण 2022 का सूतक काल | Chandra Grahan 2022 Sutak Kaal

ज्योतिषीय मान्यताओं के अनुसार, चंद्र ग्रहण का सूतक काल ग्रहण लगने से 9 घंटे पहले शुरू हो जाता है. यह चंद्र ग्रहण भारत में भी लगेगा. ऐसे में इस चंद्र ग्रहण का सूतक काल भारत में भी मान्य होगा. इस चंद्र ग्रहण का सूतक काल सुबह 9.21 बजे से लेकर शाम 6.18 तक रहेगा. 

ग्रहण के दौरान निषेध हैं ये कार्य | Chandra Grahan 2022 Precarious 

ग्रहण के दौरान यात्रा करना निषेध माना गया है. ऐसे में चंद्र ग्रहण की अवधि में किसी प्रकार की यात्रा करने से बचें.

चंद्र ग्रहण के सूतक काल के दौरान जितना संभव हो सके घर में ही रहें. विशेष रूप से गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान घर से बाहर नहीं जाना चाहिए. 

चंद्र ग्रहण को नग्न आंखों से नहीं देखना चाहिए. हलांकी ग्रहण देखने वाले उपकरण के विशेष सावधानी के साथ ग्रहण को देखा जा सकता है. 

ग्रहण लगने से पहले और ग्रहण की समाप्ति के बाद स्नान निश्चित रूप से करना चाहिए. माना जाता है कि इससे ग्रहण का नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है. 

ग्रहण के सूतक काल के दौरान कुछ भी खाने-पीने से बचना चाहिए. अगर घर में दूध बचा रहे तो उसमें कुश या तुलसी के पत्ते डाल देना चाहिए. 

ग्रहण के दौरान भगवान को स्पर्श नहीं किया जाता है. ऐसे में अगर घर में पूजा मंदिर है तो उसे ग्रहण लगने से ठीक पहले साफ कपड़े से ढक देना चाहिए. मंदिरों में भी कपाट बंद कर दिए जाते हैं.

अगर ग्रहण से पहले घर में बनाया हुआ खाना बच जाए तो उसे ग्रहण की समाप्ति पर नहीं खाना चाहिए. ग्रहण की समाप्ति के बाद नया भोजन पकाना चाहिए. 

Chandra Grahan 2022: साल का आखिरी और दूसरा चंद्रग्रहण लगेगा 8 नवंबर को, नोट करें समय और जरूरी बातें

गर्भवती महिलाएं क्या ना करें | what not to do pregnant women

चंद्र ग्रहण के दिन ग्रहण काल में घर से किसी भी परिस्थिति में बाहर ना जाएं. इस दौरान घर में ही रहें और कोशिश करें कि घर की खिड़कियां भी बंद रहे. 

ग्रहण के दिन किसी भी कीमत पर ग्रहण की घटना को ना देखें. 

ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार का भोजन ग्रहण ना करें. कोशिश करें कि ग्रहण शुरू होने से पहले भोजन कर लें.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

लोक आस्था का पर्व छठ संपन्न, बनारस के घाट से देखें अजय सिंह की रिपोर्ट

Featured Video Of The Day

आत्म निर्भर भारत के लिए वित्तीय मजबूती है महत्वपूर्ण : वित्त मंत्री



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,587FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime