Thursday, August 11, 2022

Flood Havoc In Telangana, CM KCR Held Review Meeting Of Relief Works – तेलंगाना में बाढ़ का कहर, सीएम केसीआर ने की राहत कार्यों की समीक्षा बैठक


तेलंगाना में बाढ़ का कहर, सीएम केसीआर ने की राहत कार्यों की समीक्षा बैठक

मुख्यमंत्री केसीआर ने बुधवार को प्रगति भवन में बारिश और बाढ़ की स्थिति पर बैठक की

हैदराबाद:

देश के कई राज्यों में बारिश और बाढ़ से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. तेलंगाना के भी कई हिस्सों में बारिश का कहर देखने को मिल रहा है. मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने राज्य में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण नालों, जलाशयों और नदियों में उफान होने की स्थिति में अधिकारियों को तत्काल बचाव कार्य जारी रखने का आदेश किया है. सीएम केसीआर ने अधिकारियों को भारी बाढ़ से होने वाले जान- माल के नुकसान को कम करने के लिए सभी विभागों के साथ समन्वय से काम करने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री केसीआर ने बुधवार को प्रगति भवन में बारिश और बाढ़ की स्थिति पर एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की. बुधवार सुबह 12 बजे शुरू हुई इस बैठक में सीएम ने करीब 6 घंटे तक बाढ़ की स्थिति और बचाव के उपायों की समीक्षा की और उचित आदेश जारी किए.

यह भी पढ़ें

केसीआर ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को उचित आदेश जारी कर कृष्णा और गोदावरी नदियों के ऊपरी इलाकों में हो रही भारी बारिश की पृष्ठभूमि में एसएसआरएसपी जैसे विभिन्न जलाशयों से हो रहे जल प्रवाह की जानकारी ली. सीएम ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए उठाए गए कदमों की भी जानकारी ली.

चूंकि बाढ़ का पानी कदम परियोजना में भारी मात्रा में बह रहा है, अधिकारियों ने उन 12 गांवों के लोगों को खाली करा लिया है, जो कदेम परियोजना के निचले हिस्से में पानी छोड़े जाने के कारण बाढ़ से प्रभावित हैं. सीएम ने स्थानीय मंत्री इंद्रकरण रेड्डी को फोन पर वहां से सुरक्षात्मक उपाय करने का आदेश दिया. सीएम ने नगर निगम के विशेष मुख्य सचिव अरविंद कुमार को निर्मल सहित बाढ़ की चपेट में आने वाले नदी जलग्रहण क्षेत्र के कस्बों में तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने भद्राचलम में बढ़ती बाढ़ को देखते हुए स्थानीय मंत्री पुववाड़ा अजय कुमार को वहां से व्यवस्थाओं पर नजर रखने और बाढ़ प्रभावित इलाकों से लोगों को तुरंत निकालने का आदेश दिया. सीएम केसीआर ने कृषि मंत्री सिंगरेड्डी निरंजन रेड्डी और रायथुबंधु समिति के अध्यक्ष पल्ला राजेश्वर रेड्डी के साथ बाढ़ के मद्देनजर राज्य में फसलों की स्थिति और तालाबों में गाद भरने की स्थिति की समीक्षा की. सीएम ने बाढ़ थमने के तुरंत बाद जरूरी बीज और खाद उपलब्ध कराने के आदेश दिए.

मुख्यमंत्री ने बिजली विभाग के सीएमडी प्रभाकर राव, रघुमारेड्डी और सिंगरेनी के सीएमडी श्रीधर को आदेश दिया कि वे बारिश के कारण राज्य में बिजली आपूर्ति में किसी भी तरह की बाधा को रोकने के लिए उपाय करें और एक और महीने के लिए पर्याप्त कोयले का स्टॉक करें.  बिजली विभाग के अधिकारियों ने सीएम को जानकरी दी कि 2300 बिजली के पोल टूटे हैं जिसमें 1600 पोल को स्थापित किया जा चुका है.  बाकी पोल के मरम्मत का काम प्रगति पर है. सीएमडी प्रभाकर राव रघुराम रेड्डी ने सीएम को बताया कि जहां बिजली में रुकावट होती है, वहां वैकल्पिक सुविधाओं के माध्यम से तुरंत बिजली बहाल कर दी जाती है.

ये भी पढ़ें- 



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,430FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime