Wednesday, November 30, 2022

Former SP, Who Was Absconding For Two Years In The Case Of Businessmans Death, Surrendered In Court – व्यापारी की मौत के मामले में दो साल तक फरार रहे पूर्व एसपी ने कोर्ट में किया सरेंडर


व्यापारी की मौत के मामले में दो साल तक फरार रहे पूर्व एसपी ने कोर्ट में किया सरेंडर

दो साल से फरार रहे भगोड़े एसपी मणिलाल पाटीदार ने सरेंडर कर दिया है (फाइल फोटो).

नई दिल्ली :

उत्तर प्रदेश के महोबा (Mahoba) के चर्चित व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी की मौत के मामले में दो साल से फरार चल रहे तत्कालीन भगोड़े एसपी मणिलाल पाटीदार (Manilal Patidar) ने लखनऊ कोर्ट में सरेंडर कर दिया है. भगोड़े पूर्व एसपी मणिलाल पाटीदार द्वारा कोर्ट में सरेंडर करते ही न्यायालय ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया. इसके बाद त्रिपाठी के परिवार ने राहत की सांस ली है. इंद्रकांत त्रिपाठी के भाई रविकांत त्रिपाठी ने खास बातचीत में कहा कि उन्हें हाईकोर्ट और कानून पर विश्वास है जिसके चलते आखिरकार घमंडी आईपीएस को आज सरेंडर करने पर मजबूर होना पड़ा है.

यह भी पढ़ें

महोबा के कबरई थाना क्षेत्र के झांसी-मिर्जापुर हाईवे के बघवा खोड़ा मोड़ पर सात सितंबर 2020 को पत्थर व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी ने अपनी गाड़ी में लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या की कोशिश की थी. कार में इंद्रकांत त्रिपाठी खून से लथपथ पड़े हुए पाए गए थे. इसके बाद पुलिस प्रशासन उन्हें गंभीर अवस्था में कानपुर रीजेंसी ले गया था. वहां 13 सितंबर को इंद्रकांत त्रिपाठी की इलाज के दौरान मौत हो गई थी. 

इंद्रकांत त्रिपाठी की मौत को लेकर पत्थर मंडी कबरई के हजारों व्यापारियों ने थाने में प्रदर्शन करके मणिलाल पाटीदार, सिपाही अरुण यादव, तत्कालीन थाना प्रभारी देवेंद्र शुक्ला के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. इसको लेकर जोरदार प्रदर्शन किया गया था. प्रयागराज जोन के एडीजी प्रेम प्रकाश व चित्रकूट धाम मंडल के आईजी के सत्यनारायण ने तत्काल प्रभाव से आरोपी मणिलाल पाटीदार व इंद्रकांत त्रिपाठी के पार्टनर कारोबारी सुरेश सोनी, ब्रह्मदत्त तिवारी के खिलाफ धारा 304 में मुकदमा दर्ज कर लिया था. विवेचना के दौरान कबरई थाना के तत्कालीन प्रभारी देवेंद्र शुक्ला व सिपाही अरुण यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था और उन्हें गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया था. 

नौ सितंबर को अरुण श्रीवास्तव महोबा के नए पुलिस अधीक्षक बनाए गए. वहीं 19 सितंबर को डीएम अवधेश तिवारी को हटाकर सत्येंद्र कुमार को महोबा की कमान सौंपी गई. कोर्ट द्वारा भगोड़ा घोषित करने के बाद भी मणिलाल पाटीदार दो साल से फरार चल रहे थे. आज कोर्ट में सरेंडर करते ही क्रशर कारोबारी मृतक इन्द्रकांत त्रिपाठी के परिजनों ने राहत की सांस ली है.

उत्तर प्रदेश में निलंबित एसपी पर हत्या का मुकदमा दर्ज



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,586FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime