Wednesday, November 30, 2022

Religious Conversion And Migration Causing Population Imbalance, Says RSS Leader Dattatreya Hosabale – धर्मांतरण से कम हो रही हिंदुओं की संख्या, घर वापसी के अच्छे नतीजे मिले : RSS नेता


उन्होंने कहा कि ‘घर वापसी’ के अच्छे परिणाम सामने आए हैं. ‘घर वापसी’ इस्लाम और ईसाई धर्म अपना चुके लोगों को हिंदू धर्म में वापस लाने का संघ परिवार का प्रयास है.

होसबाले ने कहा कि धर्मांतरण रोकने के लिए कानून बनाए गए हैं, लेकिन इन कानूनों को सख्ती से लागू किए जाने की जरूरत है.

‘सबसे ज्यादा कंडोम कौन यूज कर रहा?’ : मुस्लिम आबादी को लेकर RSS प्रमुख पर ओवैसी का निशाना

उन्होंने यह बात उत्तर प्रदेश सहित कुछ राज्यों में संबंधित कानूनों के संदर्भ में कही जो बलपूर्वक या प्रलोभन द्वारा कराए जाने वाले धर्मांतरण को प्रतिबंधित करते हैं. आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी 16 से 19 अक्टूबर तक प्रयागराज में हुई संघ के अखिल भारतीय कार्यकारी मण्डल की बैठक में शामिल हुए.

होसबाले ने कहा, ‘धर्मांतरण से हिंदुओं की संख्या कम हो रही है और जनसंख्या असंतुलन के कारण कई देशों में विभाजन की नौबत आई है. भारत का विभाजन भी जनसंख्या असंतुलन के कारण हो चुका है. इसलिए सभी पर लागू होने वाली जनसंख्या नीति बननी चाहिए.’

उन्होंने कहा, ‘जनसंख्या असंतुलन का दूसरा कारण घुसपैठ है. बांग्लादेश के रास्ते उत्तर बिहार के पूर्णिया, कटिहार जैसे जिलों और अन्य राज्यों में भी जनसंख्या असंतुलन देखने को मिला है.’

“सब पर समान रूप से लागू हो जनसंख्या नियंत्रण कानून…” : दशहरे पर बोले RSS प्रमुख मोहन भागवत

धर्मांतरण के बाद अनुसूचित जाति के लोगों को आरक्षण का लाभ मिलने के मुद्दे पर होसबाले ने कहा, ‘संघ ने पहले से कहा है कि जो मतांतरित (धर्म परिवर्तन कर चुके लोग) होते हैं उन्हें आरक्षण की सुविधा नहीं मिलनी चाहिए.’ उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर निर्णय करने के लिए सरकार द्वारा पूर्व प्रधान न्यायाधीश के जी बालकृष्णन की अध्यक्षता में समिति गठित की गई है जो इस मामले में अध्ययन कर अपनी रिपोर्ट देगी.

होसबाले ने कहा कि बैठक में हिंदू समाज में विभिन्न गतिविधियों में महिलाओं की सहभागिता बढ़ाने पर भी चर्चा हुई. 

उन्होंने कहा, ‘महिलाएं समाज के हर क्षेत्र में जा रही हैं और सामाजिक कार्यों में भी निर्णय प्रक्रिया में उनकी सहभागिता बढ़नी चाहिए.’

RSS प्रमुख ने नई जनसंख्या नीति का किया आह्वान, बढ़ती आबादी पर जताई चिंता

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,586FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime