Sunday, November 27, 2022

Sanjay Raut Unlikely Praise For Devendra Fadnavis Day After Jail Exit


जेल से बाहर आते ही संजय राउत ने की फडणवीस की तारीफ, PM मोदी-अमित शाह से भी करेंगे मुलाकात

संजय राउत 3 महीने बाद जेल से जमानत पर बाहर आए हैं.

मुंबई:

महाराष्ट्र के पात्रा चॉल घोटाले (Patra Chawl Scam) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) के केस में संजय राउत (Sanjay Raut) को 101 दिनों के बाद राहत मिली. जेल से बाहर आते ही संजय राउत के सुर और मिज़ाज बदले-बदले लग रहे हैं. संजय राउत ने महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) की तारीख की है. जून में महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में शिवसेना के विधायकों ने बगावत कर दी थी. जिसके बाद उन्होंने देवेंद्र फडणवीस के साथ मिलकर सरकार बना ली थी. 

यह भी पढ़ें

संजय राउत ने कहा, ‘मैं उद्धव ठाकरे से मुलाकात करूंगा. एनसीपी चीफ शरद पवार ने भी मुझे बुलाया है. मुझे किसी के खिलाफ कोई शिकायत नहीं है. हमने ऐसा राजनीतिक बदला आज तक नहीं देखा. मैं इसके लिए किसी केंद्रीय एजेंसी को दोष नहीं दूंगा. महाराष्ट्र में नई सरकार बन गई है. मैं उनके कुछ फैसलों का स्वागत करता हूं. उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कुछ अच्छे फैसले लिए है. हमें लगता है कि डिप्टी सीएम फडणवीस ही सरकार चला रहे हैं और वही राज्य के मुखिया हैं.’

पीएम मोदी और अमित शाह से मिलेंगे संजय राउत

उन्होंने आगे कहा, ‘मैं आज ही उद्धव ठाकरे और शरद पवार से मिलूंगा. दो-चार दिन में मैं आम लोगों के काम से देवेंद्र फडणवीस से मिलूंगा, मैं दिल्ली भी जाऊंगा और वहां केंद्री. गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिलूंगा.’ हाई कोर्ट से जमानत मिलने के बाद संजय राउत कल ही जेल से बाहर आए हैं.

केंद्रीय एजेंसी को दोष देने से राउत का इनकार

शिवसेना (उद्धव) के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि उद्धव ठाकरे से मिलूंगा, एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने भी मुझे फोन किया है. मुझे किसी से कोई शिकायत नहीं है. हमने ऐसा राजनीतिक प्रतिशोध नहीं देखा. मैं किसी केंद्रीय एजेंसी को दोष नहीं दूंगा.

इससे पहले बुधवार को संजय राउत ने कहा था, ‘मैं मुक्त होकर खुश हूं. कोर्ट ने वही कहा है जो हम शुरू से कह रहे हैं. न्यायपालिका, अदालतों और संविधान में मेरा विश्वास बढ़ा है. हालांकि, मैं अभी थोड़ा अस्वस्थ महसूस कर रहा हूं. संजय राउत ने ये भी कहा कि वह शिवसेना कभी नहीं छोड़ेंगे और अन्याय के खिलाफ उनका संघर्ष जारी रहेगा. उन्होंने स्वीकार किया कि अपनी मां, पत्नी और बेटी से अलग होने के कारण तीन महीने से अधिक जेल में बिताना उनके लिया बहुत मुश्किल था.’

ये भी पढ़ें:-

“महाराष्ट्र देवेंद्र फडणवीस चला रहे हैं, इसलिए उनसे मिलूंगा” : संजय राउत का सबसे “प्यार”, एकनाथ शिंदे पर वार

       

“ED को बंद क्यों नहीं कर देना चाहिए…?” : संजय राउत मामले पर उद्धव ठाकरे का केंद्र सरकार पर तंज़

Featured Video Of The Day

हिमाचल प्रदेश चुनाव 2022 में प्रचार का आज अंतिम दिन



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,585FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime