Sunday, January 29, 2023

Uttar Pradesh Ats Team Arrested 8 Suspected Terrorist Including Four Accused Of Saharanpur – यूपी: सहारनपुर में 5 आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद हाई अलर्ट, पुलिस ने कहा- सतर्क रहें


यूपी: सहारनपुर में 5 आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद हाई अलर्ट, पुलिस ने कहा- सतर्क रहें

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में विदेशी आतंकी संगठनों के 5 आतंकवादी गिरफ्तार किये जाने के बाद जिले के एसएसपी डॉ. विपिन टाडा ने जिले में ‘हाई अलर्ट’ जारी करते हुए लोगों से सचेत रहने को कहा है. एसएसपी ने मंगलवार को बताया कि उत्तर प्रदेश एटीएस ने सहारनपुर के 5 मदरसा शिक्षकों और संचालकों को गिरफ्तार किया है. इनका ताल्लुक आतंकी संगठन अलकायदा और इसके सहयोगी संगठन जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश से है.

यह भी पढ़ें

यूपी एटीएस ने 8 संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है. इनमें 5 सहारनपुर के रहने वाले बताए जा रहे हैं. सभी से एटीएस पूछताछ कर रही है. बताया जा रहा है कि यह सभी आतंकी कट्ठरपंथी विचारधारा के लोगों को खुद से जोड़ने के साथ ही उन्हें जिहाद के लिए प्रेरित कर रहे थे.

सहारनपुर के जो लोग गिरफ्तार हुए हैं उनमें रूकमान, कारी मुख्तार, कामिल और नवाजिस अंसारी शामिल हैं और मोहम्मद अलीम सहारनपुर मंडल के जनपद शामली का शहजाद गिरफ्तार हुआ है. एटीएस के मुताबिक कामिल देवबंद कोतवाली के गांव जहिरपुर का निवासी है. वह हरिद्वार के थाना रानी के गांव सलेमपुर में रहता है. कामिल को हरिद्वार से ही मुदस्सिर के साथ गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस के मुताबिक, गागलहेड़ी थाने के गांव सय्यैद माजरा स्थित मदरसा दारे-अकरम से लुकमान की गिरफ्तारी हुई है. लुकमान इस मदरसे का संचालक है. गागलहेड़ी थाने के कस्बा कैलाशपुर निवासी मोहम्मद अलीम की भी गिरफ्तारी एटीएस ने की है. अलीम आतंकी संगठन का सक्रिय सदस्य है. अलीम, अहसान बांग्लादेशी को लुकमान, शहजाद व कारी मुख्तार से मिलवाया था.

एटीएस ने शामली जिले के थाना झिंझाना के गांव नंगला नाई निवासी शहजाद को भी गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार मुदस्सिर नंगला इमरती जिला हरिद्वार का रहने वाला है और नवाजिस अंसारी गिरफ्तारी झारखंड से हुई है. पुलिस के मुताबिक, इन सभी आठों लोगों का आपस में संपर्क था. ये नेटवर्क बनाकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सक्रिय थे. नवाजिस अंसारी झारखंड के जिला गिरडी का निवासी है. वह सहारनपुर के देवबंद कस्बे में रहा है.

अब्दुल तल्हा का संपर्क लुकमान से हुआ. इसके बाद लुकमान, तल्हा और नवाजिस अंसारी ने मिलकर कामिल कारी मुख्तार और अलीम से संपर्क बनाकर संगठन से जोड़ दिया. गिरफ्तार संदिग्ध आतंकियों से पेन ड्राइव, मोबाइल फोन और अन्य संदिग्ध दस्तावेज बरामद हुए हैं.

गौरतलब हे कि मार्च और अगस्त में एनआईए ने अलकायदा और जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश के तीन आतंकियों की गिरफ्तारी की थी. उनसे पूछताछ के आधार पर ही यूपी-एटीएस और एनआईए से मिले इनपुट पर यूपी-एटीएस ने इन आठ संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया. जिनमें से चार सहारनपुर के रहने वाले हैं, एक बांग्लादेशी नागरिक हैं और दो उत्तराखंड के हैं. एक शामली जिले का रहने वाला है. एसएसपी डॉ. विपिन टाडा ने संदिग्धों के छिपने के सभी स्थानों पर पुलिस और स्थानीय अभिसूचना इकाई को तलाशी के निर्देश दिए हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,682FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime